Home खगड़िया परबत्ता वैश्य समाज ने राजनीतिक दावेदारी के लिए भरा हुंकार, वैश्य चेतना समिति द्वारा आयोजित राजनीतिक दावेदारी सम्मेलन संपन्न

परबत्ता वैश्य समाज ने राजनीतिक दावेदारी के लिए भरा हुंकार, वैश्य चेतना समिति द्वारा आयोजित राजनीतिक दावेदारी सम्मेलन संपन्न

0
परबत्ता वैश्य समाज ने राजनीतिक दावेदारी के लिए भरा हुंकार, वैश्य चेतना समिति द्वारा आयोजित राजनीतिक दावेदारी सम्मेलन संपन्न

खगड़िया/परबत्ता प्रखंड के कबीर मोती दर्शन महाविद्यालय के मैदान में रविवार को वैश्य चेतना समिति द्वारा राजनीतिक दावेदारी सम्मेलन का आयोजन किया गया. कार्यक्रम की शुरुआत रैली के द्वारा की गई. जिसमें रहीमपुर मोड़ से जुलूस निकालकर प्रखंड मुख्यालय स्थित बाबा साहेब अंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर सभा स्थल पर पहुंच कर रैली का समापन किया गया. जिसके बाद कार्यक्रम की दूसरे सत्र की शुरुआत विधिवत तरीके से नगर पंचायत परबत्ता की मुख्य पार्षद अर्चना देवी, वैश्य चेतना समिति के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सुनील कुमार, सचिव राजेश कुमार, पूर्व डी.डी.सी रविकांत चौरसिया, पूर्व सरपंच योगेंद्र साह, निरंजन साह,रमन साह आदि ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया.
सभा को संबोधित करते हुए वैश्य चेतना समिति के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सुनील कुमार ने कहा की पूरे राज्य के वैश्य समुदाय के सभी उपजाति को संगठित कर 2025 में वैश्य की सरकार बनाने का लक्ष्य है. इसी उद्देश्य से आज परबत्ता के के एम डी कॉलेज मैदान में वैश्य समुदाय के सभी उपजाति के लोग जुटकर अपने राजनीतिक दावेदारी की बात कर रहे हैं. उपस्थित जनसमूह का उत्साह देखकर लगने लगा है की 2025 में वैश्य की सरकार बनने से कोई ताकत नहीं रोक सकता है. वहीं युवा अध्यक्ष डॉ संजीव कुमार पोद्दार ने कहा की आज पूरे राज्य में वैश्य समुदाय के ऊपर लगातार हमले हो रहे हैं स्थितियां बनी हुई है कि इनकी अत्याचार पर कोई भी राजनीतिक दल बोलने तक के लिए भी तैयार नहीं है. पिछले दिनों वैश्य समुदाय के एक नौजवान की हत्या बंदेहरा पंचायत में हुई. इस पर किसी भी राजनीतिक दल ने कोई पहल कदमी नहीं की। इसलिए वैश्य समुदाय के सभी उपजाति के लोग संगठित होकर ऐसी राजनीतिक दलों का बहिष्कार कर अपने समाज के नेताओं को विधानसभा और लोकसभा भेजने का काम करें.
वहीं नगर पंचायत परबत्ता के चेयरमैन प्रतिनिधि रंजीत कुमार साह ने कहा कि आज वैश्य समाज के लोग वर्तमान राजनीतिक व्यवस्था से हताश और निराश हैं. मैं इस मंच से बस समुदाय के सभी लोगों को आशा और विश्वास दिलाता हूं दिलाना चाहता हूं कि मैं तमाम वैश्य समाज की उपजातियां को एक कर उन्हें संगठित कर उनको एक साथ लेकर चलने का काम करूंगा.
वहीं पूर्व डीडीसी रविकांत चौरसिया ने कहा की विश्व समाज की सभी उपजातियां के ऊपर हमले हो रहे हैं उनको एक करने की जरूरत है उनके ऊपर होने वाले अत्याचार पर सभी लोगों को मुंह खोलने एवं सड़क पर उतरने की जरूरत है. वहीं पूर्व पंचायत समिति सदस्य राजू राजहंस ने कहा की इसी तरह वैश्य समुदाय एकजुट रहा तो आने वाले समय में परबत्ता विधानसभा का भी नेतृत्व कोई वैश्य का बेटा ही करेगा. कार्यक्रम की अध्यक्षता मुख्य पार्षद अर्चना देवी ने किया. वहीं मंच का संचालन धीरज कुमार ने किया.
इस मौके पर पूर्व प्रमुख नरेश प्रसाद बादल, ज्ञानचंद्र भगत, अरविंद भगत, झींगों पंडित, पकरैल पंचायत के मुखिया अरुण कुमार साह, गौछारी पंचायत के मुखिया शंभू चौरसिया, पूर्व मुखिया कैलाश शर्मा, युगल किशोर साह, वार्ड पार्षद प्रतिनिधि महेश कुमार पुष्पा, नंदकिशोर, मनु मयंक,मंटू समेत सैकड़ों लोग मौजूद थे।

Gurudev kumar

Editor-in-chief

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here